में तैनात लेख " रवीश कुमार " श्रेणी

  • रवीश कुमार सही में दलाल है

    रवीश कुमार सही में दलाल है

    भाई जब आप दंगाइयों , दलालों, गुंडों, घूसखोरों को लाइन में लगकर वोट देते हैं , उनमें माँ भारती के भविष्य का चेहरा देखते हैं तो आपको क्या सही में लगता है कि दलाल कहे जाने से मैं शर्म से मर जाऊँगा ।


  • कभी रवीश कुमार मत बनना

    कभी रवीश कुमार मत बनना

    आप छात्रों से बातचीत करते हुए लगता है कि आपको भयंकर किस्म के सुनहरे सपने बेचे गए हैं। आपमें से ज़्यादतर को पत्रकारिता की पढ़ाई के नाम पर उल्लू बनाया जा रहा है। आप सबकी मासूमियत और ईमानदारी देखकर जी मचलता है। लगता है कि क्या किया जाए कि आपको ख़रोंच तक न लगे। जज़्बा बचा रहे। पर मैं एक व्यक्ति हूं। मैं सोच सकता हूं, लिख सकता हूं इससे ज़्यादा कुछ नहीं कर सकता।