में तैनात लेख " निर्भया " श्रेणी

  • निर्भया पर बनी डाक्यूमेंट्री से भारत की बदनामी कैसे ?

    निर्भया पर बनी डाक्यूमेंट्री से भारत की बदनामी कैसे ?

    मैं समझ नहीं पा रहा हूं कि एक डाक्यूमेंट्री से भारत की बदनामी कैसे हो रही है। क्या मीडिया बलात्कार की ख़बरें इसलिए न दिखाए। एक-दो दिखा दे, मगर चार-पांच न दिखाये क्योंकि पर्यटन पर असर पड़ेगा। तो फिर सरकार मीडिया को भी टूरिज़्म अडवाइज़री जारी कर दे कि आप बलात्कार की ख़बरें या वैसी ख़बरें न दिखाएं जिससे पर्यटन को नुकसान हो


  • कहां गई वो दिल्ली ?

    कहां गई वो दिल्ली ?

    भावना का नाम निर्भया नहीं है लेकिन उसके साथ निर्भया जैसा ही हुआ है। निर्भया भी दिल्ली में मार दी गई और भावना भी इसी शहर में। अब तो दिल्ली को इस बात से गुस्सा भी नहीं आता है कि इस साल के दस महीनों में बलात्कार के 1700 से भी ज्यादा मामले दर्ज हुए हैं। यही वो वास्तविकताएं हैं जिनके चश्मे से लगता है कि सबकुछ नौटंकी है। क्या ये सब चुनाव के लिए था।