में तैनात लेख " किरण बेदी " श्रेणी

  • “आपको एंटरटेनमेंट चाहिए तो बाहर चले जाएं- किरण बेदी

    “आपको एंटरटेनमेंट चाहिए तो बाहर चले जाएं- किरण बेदी

    “आपको एंटरटेनमेंट चाहिए तो बाहर चले जाएं।“ “आप उधर मत देखो, मेरी तरफ देखो, मैं आपसे बात कर रही हूं। मैं आपको इतनी एनर्जी दे रही हूं आप मेरी तरफ देखो तो सही।“ ये वाक्य डांटनुमा शैली में किरण बेदी के ही हैं। बीजेपी दफ्तर में अपने स्वागत समारोह में किरण बेदी बोलते बोलते सबको प्यार से सुना भी रही थीं कि सुनो किरण बेदी बोल रही हैं।


  • तू है मेरी किरण- गाएगी अब बीजेपी

    तू है मेरी किरण- गाएगी अब बीजेपी

    अन्ना आंदोलन का वैसे भी फलूदा निकल चुका है। अब इसके बाकी बचे अवशेषों की भी चीर-फाड़ होगी। लोकपाल का मरा मरा सा कानून कहीं मूर्छित पड़ा है। कोई गला नहीं फाड़ेगा कि लोकपाल कहां है क्योंकि लोकपाल के दोनों योद्धा एक दूसरे का गला काटने मैंदान में जंग लड़ रहे होंगे।