में तैनात लेख " आतंकवाद " श्रेणी

  • बख़्तरबंद स्कूलों से क्या आतंकवाद का मुकाबला हो पाएगा

    बख़्तरबंद स्कूलों से क्या आतंकवाद का मुकाबला हो पाएगा

    क्या आप ऐसे किसी स्कूल की कल्पना करना चाहेंगे जहां आपके बच्चे को गेट पर मेटल डिटेक्टर से गुज़रना पड़े, क्लासरूम में जाने से पहले उसके बैग की सुरक्षा जांच हो,प्रार्थना के बाद आतंकवाद से बचने के लिए सुरक्षा ड्रील हो, चारों तरफ सीसीटीवी कैमरे लगे हों, जिसके ज़रिये प्रिंसिपल और सिक्योरिटी अफसर बच्चों के एक एक लम्हे पर निगाह रख रहे हों ?


  • हे पाकिस्तान के परवरदिग़ार !

    हे पाकिस्तान के परवरदिग़ार !

    उम्मीद की जानी चाहिए कि पाकिस्तान की घटना सकारात्मक नतीजे लाएगी। इस नतीजे में सबसे बड़ा नतीजा होगा कि इस पार या उस पार हम सब धर्म के नाम पर ऐसे हिंसक संगठनों को भावुकता या आस्था के पैमाने से देखना बंद कर देंगे। हम समझने लगेंगे कि तालिबान हो या आतंकवाद या सांप्रदायिकता ये सब ऐसे स्कूलों की तलाश में हैं जहां हमारे बच्चों को मार सकें या फिर उन्हें अपने जैसा वहशी बना सकें।