Articles Posted by the Author:


  • हम नहीं हमारे भारत के ये 2, 464 बकलोल लोग

    हम नहीं हमारे भारत के ये 2, 464 बकलोल लोग

    नहीं जानने के कारण ही इन 2464 में से 53 फीसदी कहते हैं कि भारत मे सेना का शासन होना चाहिए। इस हिसाब तो आज प्रधानमंत्री की कुर्सी पर जनरल वी के सिंह होते, नरेंद्र मोदी नहीं होते। जब 10 में से आठ भारतीय इस बात से खुश हैं कि जिस तरह से लोकतंत्र चल रहा है वो ठीक है तो उसी 10 में से ये 5 से अधिक भारतीय कौन हैं जो सेना का शासन बेहतर मानते हैं। ये जो 10 भारतीय हैं वो कमाल के हैं। भगवान बचाए इन 10 भारतीयों से।








  • हम भारत के हिंसक लोग

    हम भारत के हिंसक लोग

    भारत की आत्मा भटक रही है। जाने कब उसने स्वर्ण युग देखा था, जिसकी तलाश में आज तक वो कभी धर्म तो कभी व्यापार तो कभी राजनीति के क्षेत्र में भटकती रहती है। समय-समय पर उस आदर्श युग में ले जाने के लिए कोई न कोई घुड़सवार आ जाता है। भारत को इसी भटकती हुई आत्मा की आह लग गई है।