कस्बा

 

कस्बा ब्लाग से वेबसाइट बन गया है । कस्बा से महानगर । दुनिया के बाक़ी हिस्सों से आवाजाही आसान हो इसलिए ऐसा किया है । एक समय में कई माध्यमों में लिखने की वजह से कई चीज़ें यहाँ वहाँ बिखर जाया करती थीं । सोच यह है कि धीरे धीरे यह सामूहिक मंच में बदल जाए । जहाँ आप सब हो और मैं भी आपके साथ । धीरे धीरे इसलिए कहा क्योंकि इसके संचालन में समय की ज़रूरत होगी । सम्पादन का अधिकार सुरक्षित है और बिना अनुमति के अख़बार पत्रिका या किसी वेबसाइट पर प्रकाशन करने की इजाज़त नहीं है ।