Monthly Archives: October 2017



  • हम भारत के हिंसक लोग

    हम भारत के हिंसक लोग

    भारत की आत्मा भटक रही है। जाने कब उसने स्वर्ण युग देखा था, जिसकी तलाश में आज तक वो कभी धर्म तो कभी व्यापार तो कभी राजनीति के क्षेत्र में भटकती रहती है। समय-समय पर उस आदर्श युग में ले जाने के लिए कोई न कोई घुड़सवार आ जाता है। भारत को इसी भटकती हुई आत्मा की आह लग गई है।